सिर्फ मुंबई में नहीं आती अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट, कनेक्टिंग फ्लाइट पर भी उठाए सवाल- डिप्टी CM अजित पवार

Published By Reporter on TAHELKA NEWS 08:36:59 10-12-2021

मुंबई : महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने कहा है कि ओमीक्रॉन मामलों पर अगर पाबंदी लगानी है अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट पर तो सिर्फ मुंबई में ही नहीं बल्कि सभी राज्यों में आ रही है. फिर क्यों लोग एक राज्य से उतर कर दूसरे राज्य में कनेक्टिंग फ्लाइट से पहुंच जाते है, केंद्र सरकार को यह निर्णय लेना होगा. राहुल गांधी की मुंबई सभा को लेकर अजित पवार ने कहा कि अगर ओमिक्रोन के मामले इस तरह से बढ़ते रहे तो परमिशन के बारे में सरकार को सोचना होगा. राहुल गांधी की मुंबई में 28 दिसंबर को सभा होने वाली है.
वहीं CDS बिपीन रावत की मौत पर अजित पवार ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार पहले से ही चॉपर का ऑडिट करती रही है क्यों कि इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के साथ भी एक गड़बड़ी हुई थी. कुछ दिन पहले मेरे साथ भी हादसा होते-होते बचा है. लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि जिस चॉपर से हादसा हुआ वो अच्छी क्वालिटी का है देश के वीआईपी इसी से सफर करते है फिर भी इस तरह की घटना क्यूं हुई है. इसकी जांच केंद्र सरकार जरूर करेगी.
महाराष्ट्र में कोरोना के 893 नए मामले आए और 10 लोगों की मौत हो गई. हालांकि पिछले 24 घंटे में ओमीक्रॉन स्वरूप का कोई मामला नहीं आया. स्वास्थ्य विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी. कोरोना के नए मामलों के साथ संक्रमितों की कुल संख्या 66,40,888 हो गई और मृतकों की संख्या 1,41,204 हो गई है. राज्य में मंगलवार को कोरोना के 669 मामले आए और 19 लोगों की मौत हो गई.
स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया है कि पिछले 24 घंटे में 1040 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई. इस तरह अब तक 64,89,720 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. राज्य में अब तक 6,63,88,902 सैंपलों की जांच की गई है. फिलहाल 74,170 लोग होम क्वारंटाइन में हैं और 891 लोग संस्थानिक क्वारंटीन में हैं.
वायरस के नए स्वरूप के बारे में बुलेटिन में कहा गया कि राज्य में ओमीक्रॉन स्वरूप के संक्रमण कोई मामला नहीं आया है. इस स्वरूप से संक्रमित 10 मरीजों का इलाज जारी है. राज्य में 6286 उपचाराधीन मरीज हैं. बुलेटिन में कहा गया मुंबई, पुणे और नागपुर हवाई अड्डों के माध्यम से कुल 46,590 अंतरराष्ट्रीय यात्री राज्य पहुंचे. इनमें से 7,930 लोग जोखिम वाले देशों से आए. इसमें कहा गया है कि जोखिम वाले देशों के सभी 7,930 यात्रियों की आरटी-पीसीआर जांच की गई और 9 सैंपल जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजे गए.

  • Facebook Page